Blog

भविष्य निर्माण में अनुशासन

13th October, 2015

जिस तरह से अग्नि अपनी तपन से स्वर्ण को चमका देती हैं | उसी तरह अनुशासन बच्चों के व्यक्तित्व को चमकाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं |

जिस तरह से अग्नि अपनी तपन से स्वर्ण को चमका देती हैं | उसी तरह अनुशासन बच्चों के व्यक्तित्व को चमकाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं |

यदि हम बच्चों में अनुशासन की भावना को बचपन से ही डाले तो बच्चों के कदम सफलता की ओर तेजी से बढ़ते हैं | अनुशासन में रहकर जिने वालें बच्चें किसी भी परिस्थिति में अपने आपको सुरक्षित रख सकते है या उन कठिनाइयों को आसानी से पर कर सकते हैं |

बच्चों में अनुशासन की भावना को विकसित करने में माता –पिता , शिक्षक , समाज व परिवार के सदस्यों का महत्वपूर्ण योगदान होता हैं | बच्चों को यह भी ध्यान रखना होगा की यदि वे अनुशासन का पालन करते हैं |तो इसमे उनके जीवन का स्तर हमेशा ऊँचा ही रहेंगा | साथ ही – समाज उन्हें एक अच्छे व्यक्तित्व के रूप में ग्रहण करेगा |

’ बच्चों में अनुशासन से नैतिकबल ओर स्वस्थ शरीर का निर्माण होता हैं | ये दोनों ऐसे सेनापति हैं जिनकी सहायता से बच्चें कठिन से कठिन कार्यों पर आसानी से विजय प्राप्त कर सकते हैं |’’

‘’ जय हिन्द जय भारत ‘’

Back to Blog

WHAT THE PARENTS HAVE TO SAY?

quotes Theme presentation was very good.All the children actively participated in the programme which increase their confidence level.   quotes
- Mrs. Ranjana ( parents of K-2)

image01

quotes Very nice to see the children spoke perfectly ….. Lovely….. feeling proud on my daughter.   quotes
- Mrs. Dharmishtha ( Parents of Grade -4 students)

image01

quotes The theme presentation was very good. I like so much.   quotes
- Mr. Sajid Shaikh( parents of Nursery students)

image01
Back to Top